भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने किसानों को इस ओर से सचेत किया है कि वे हिंदु-मुस्लिम की राजनीति के माध्यम से ध्रुवीकारण से बचें।

Spread the love

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने किसानों को इस ओर से सचेत किया है कि वे हिंदु-मुस्लिम की राजनीति के माध्यम से ध्रुवीकारण से बचें।

 

भारतीय संचार माध्यमों के अनुसार किसान नेता राकेश टिकैत का कहना है कि अगले कुछ सप्ताहों में देश में हिंदू-मुस्लिम और जिन्ना के मुद्दे ख़ूब सुनाई देंगे इसलिए लोगों को सतर्क रहना चाहिए।

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने किसानों से हिंदु-मुस्लिम की राजनीति के माध्यम से ध्रुवीकारण से बचने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि हमें इस विषय को लेकर पूरी तरह से सतर्क रहना होगा।

राकेश टिकैत ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि मतों का ध्रुवीकरण करने के लिए हिंदु-मुस्लिम मुद्दे उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि आगामी 15 मार्च तक हिंदु-मुस्लिम और जिन्ना के मुद्दे उत्तर प्रदेश के अतिथि बनकर रहेंगे।

उनका यह भी कहना था कि यूपी में ढाई महीने तक हिंदु-मुस्लिम का भूत रहेगा। टिकैत के अनुसार अगले कुछ सप्ताहों तक यूपी में यही प्रवचन होता रहेगा। उन्होंने कहा कि जनता को इस प्रवचन में नहीं आना चाहिए।

राकेश टिकैत का कहना था कि अपने मुद्दों को लेकर किसान बहुत ही होशियार हैं। जब टिकैत से यह पूछा गया कि किसान किसको वोट देंगे तो इसके जवाब में उनका कहना था कि 13 महीनों की ट्रेनिंग में किसानों ने सीख लिया है कि वोट किसको देना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.